The editor and the owner of Hahnemann ki Aawaz, do not necessarily agree with the information provided in various articles and sections of this newsletter. The authors and contributors are solely responsible for their views and comments. Please use your discretion in using any medical/health information provided in this newsletter. Subject to jurisdiction of Karnal (Haryana) India.

Latest Posts

पेड़-पौधों को भी स्वस्थ बना रही होम्योपैथी की दवा

Hahnemann Ki Aawaz Posted on03 - 05 - 2018 बरेली। बात 2003 की है। बरेली स्थित घर में बैठे-बैठे एक दिन होम्योपैथ डाॅक्टर विकास सोच...

चिन्तन एवं मनन का दिन है – विष्व होम्योपैथी दिवस

Hahnemann Ki Aawaz Posted on 03 - 05 - 2018 लगभग 225 वर्ष पूर्व डा0 हैनीमैन ने होम्योपैथिक चिकित्सा पद्धति का आविष्कार तत्कालीन प्रचलित चिकित्सा...

Celebrated Basant Panchmi

Hahnemann Ki Aawaz Posted on 03 - 05 - 2018 The students and staff of Homoeopathic Medical College & Hospital, Sector-26, Chandigarh celebrated Basant Panchmi...

निःशुल्क होम्योपैथिक शिविर में 400 दिव्यांग हुए लाभान्वित

Hahnemann Ki Aawaz Posted on 03 - 05 - 2018 श्रीगंगानगर। हैनीमैन एज्यूकेशन रिसर्च फोरम (एचईआरएफ) एवं शुभ करमन ट्रस्ट, श्रीगंगानगर के संयुक्त तत्वाधान में...

होम्योपैथिक राजकीय महाविद्यालय की जगह के लिए डी.सी. ने गांवों का निरीक्षण किया

Hahnemann Ki Aawaz Posted on 03 - 05 - 2018 अम्बाला छावनी। डी.सी. शरणदीप कौर बराड़ ने छावनी के नजदीक बनने वाले प्रस्तावित होम्योपैथिक राजकीय...